गुर्जर आरक्षण आंदोलन: किरोड़ी बैंसला ने कहा,सरकार हमें हमारा हक दे नहीं तो...
गुर्जर आरक्षण आंदोलन: किरोड़ी बैंसला ने कहा,सरकार हमें हमारा हक दे नहीं तो...


जयपुर। राजस्थान में गुर्जर समाज 5 प्रतिशत आरक्षण को लेकर आंदोलन चौथे दिन (सोमवार) को भी जारी है। गुर्जर समाज ने आंदोलन के चौथे दिन सिकंदरा के पास आगरा नेशनल हाईवे जाम कर दिया। कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने कहा कि जब तक सरकार हमे हमारा हक नहीं दे देती है तक तब हम आंदोलन करते रहेंगे। अब सरकार को यहीं पर आकर हमसे बात करनी होगी। न्यूज 18 से बातचीत के दौरान कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला से पूछा गया कि पूरी तरह से यातायात परिवर्तन के चलते जनता परेशान हो रही है। वहीं कई गाडियों को रद्द कर दिया है। इस पर कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने जवाब देते हुए कहा कि हमने प्रदर्शनकारियों को शांति से प्रदर्शन होने के लिए कहा है। सरकार ने जिन लोगों को केस दर्ज किया है वो वापिस ले। 

आंदोलन का असर बस और ट्रेन सेवा पर भी पड़ा है। इस आंदोलन के कारण आज भी कई ट्रेनों को निरस्त कर दिया है और कइयों के रूट डायवर्ट कर दिए गए हैं। कई जगहों पर आंदोलनकारी रेलवे ट्रैक पर बैठे हुए हैं। उधर, धौलपुर में धारा 144 अभी भी लागू है। यहां रविवार को आंदोलनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया था और फायरिंग भी की गई थी। इसमें 12 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। आंदोलन से सबसे ज्यादा प्रभावित भरतपुर और अजमेर संभाग हैं।

दिल्ली-मुंबई रेल ट्रैक पर गुर्जर आंदोलनकारी सोमवार को भी बैठे हुए हैं। इस आन्दोलन को ध्यान में रखते हुए पांच राज्यों में धारा 144 लगा दी गई है। इनमें धौलपुर, करौली, मलारना डूंगर (सवाई माधोपुर), दौसा, भरतपुर शामिल हैं। 

5 ट्रेनें रद्द, 12 बसों को रोका गया...
उत्तर प्रदेश से आने वाली रोडवेज की बसों को रोक दिया गया है। कुछ बसें सिर्फ दौसा तक पहुंच पा रही हैं। सिंधी कैम्प में 12 बसों को रोका गया है। धौलपुर के पास भूतेश्वर पुल पर गुर्जर समाज के लोगों ने बाड़ी-बसेड़ी मार्ग जाम कर दिया। हालांकि, अधिकारियों ने आंदोलनकारियों को समझाकर जाम खुलवाया। रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शनकारियों के जमा होने की वजह से 5 ट्रेनें भी रद्द करनी पड़ी हैं। इनमें हापा-श्री माता वैष्णोदेवी कटरा एक्सप्रेस (13 फरवरी), अमृतसर-बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस (12-14 फरवरी), अमृतसर-मुम्बई सेंट्रल एक्सप्रेस (13-15 फरवरी), फिरोजपुर-मुम्बई सेंट्रल एक्सप्रेस (12,13,14,15 फरवरी) और जम्मू तवी-इंदौर एक्सप्रेस (13 फरवरी) रद्द कर दी गई हैं। इस आन्दोलन से पिछले तीन दिनों में 250 से ज्यादा ट्रेनें प्रभावित हुई हैं। पश्चिमी रेलवे और पश्चिम मध्य रेलवे के अनुसार, आंदोलन को देखते हुए आगे कई ट्रेनें रद्द रहेंगी। 

गुर्जर आन्दोलन के चलते स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही है जिसमें बांद्रा टर्मिनस और सवाईमाधोपुर के बीच स्पेशल ट्रेन भी चलाई गई हैं। एक स्पेशल सुपरफास्ट गाड़ी संख्या 09027/09028 चलाई गई है।


गुर्जर आंदोलनकारी सोमवार को भी गुर्जर नेता रेल की पटरियों पर बैठे हैं। इस आन्दोलन को ध्यान में रखते हुए पांच राज्यों में धारा 144 लगा दी गई है। इनमें धौलपुर, करौली, मलारना डूंगरी (सवाई माधोपुर), दौसा, भरतपुर शामिल हैं। आपको बताते जाए कि सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में प्रवेश के लिए पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर शुक्रवार शाम को सवाईमाधोपुर के मलारना डूंगर में रेल पटरी पर बैठ गए थे ।


अधिक देश की खबरें

उज्जैन को पवित्र नगरी बनाए जाने की मांग पूरी न होने तक, देश के हर कोने में होगा अनशन- ऊर्जा गुरु अरिहंत ऋषि ..

मध्यप्रदेश समेत देश के अन्य राज्यों से भी उज्जैन को लेकर सकारात्मक प्रतिक्रिया मिलने लगी है। ...