राज्य में तेजी से बढ़ा अंडों का उत्पादन
बताया गया है कि वित्त वर्ष 2018-19 में बंगाल में अंडे का उत्पादन तेजी से बढ़ रहा है।


कोलकाता : पश्चिम बंगाल में अंडों की बढ़ती मांग को पूरी करने के लिए राज्य सरकार के प्राणी संपति विभाग की ओर से की गई कोशिशों के कारण अंडो के उत्पादन में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। प्राणी संपद विभाग की ओर से बुधवार को यह दावा किया गया है। बताया गया है कि वित्त वर्ष 2018-19 में बंगाल में अंडे का उत्पादन तेजी से बढ़ रहा है। यह आंकड़ा फिलहाल एक वर्ष में जो 860 करोड़ तक है। 

इसके पूर्व वर्ष में साल भर के अंदर केवल 800 करोड़ अंडों का उत्पादन हुआ था। इस बार यह संख्या 60 करोड़ बढ़ी है। राज्य के प्राणी संपति विभाग की विज्ञप्ति में बताया गया है कि रेडी-टू-ईट मीट शॉप श्रृंखला, हरिंगाटा मीट बहुत अच्छा कर रही है। प्रतिवर्ष इन शॉप श्रृंखला पर आय 17.84 करोड़ रुपये है। विभाग के इन स्टोर पर लोगों की भारी भीड़ हर साल उमड़ रही है क्योंकि यहां उत्पादों की गुणवत्ता भी अच्छी है और राज्य सरकार पारंपरिक स्वाद को आगे बढ़ाने के लिए पेशेवर चेफ की मदद लेती है जिससे लोग इसे काफी पसंद कर रहे हैं। इसके अलावा अंडों के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए ग्रामीण महिलाओं के बीच पोल्ट्री फार्मिंग को भी बढ़ावा दिया गया है। 

इसके लिए सहकारी बैंकों से उन्हें ऋण दिला कर स्वयं सहायता समूहों की मदद से मुर्गी पालन और अंडों की बिक्री के लिए भी विपरण प्लेटफॉर्म भी मुहैया कराया जाता है। इसका लाभ हुआ है कि वार्षिक तौर पर अंडों का उत्पादन बढ़ा है। यह आने वाले वर्षों में और अधिक बढ़ने की संभावना है जिससे राज्य की जरूरतें तेजी से पूरी होंगी। विभाग को उम्मीद है कि जल्द ही पश्चिम बंगाल से अंडो को दूसरे राज्यों में भी निर्यात किया जा सकेगा।


अधिक देश की खबरें