कोरोना वायरस अपडेट : पिछले 24 घंटों में 6654 नए मामले, 137 लोगों की मौत
कोरोना वायरस से जारी लॉकडाउन के बावजूद देश में संक्रमितों संख्या और तेजी बढ़ती जा रही है.


नई दिल्ली : कोरोना वायरस से जारी लॉकडाउन के बावजूद देश में संक्रमितों संख्या और तेजी बढ़ती जा रही है. पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना से संक्रमित लोगों के 6654 नए मामले सामने आये हैं, जो रेकॉर्ड एक दिन में सबसे अधिक मामले हैं. इसके अलावा 137 लोगों की मौत हुई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में अबतक एक लाख 25 हजार 101 लोग संक्रमित हो चुके हैं. वहीं 3720 लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना संक्रमण से प्रभावित 51 हजार 784 लोग ठीक भी हुए हैं.


जानिए किन राज्यों में हुई कितनी मौतें...
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 1517, गुजरात में 802, मध्य प्रदेश में 272, पश्चिम बंगाल में 265, राजस्थान में 153, दिल्ली में 208, उत्तर प्रदेश में 152, आंध्र प्रदेश में 55, तमिलनाडु में 98, तेलंगाना में 45,  कर्नाटक में 41, पंजाब में 39,  जम्मू-कश्मीर में 20, हरियाणा में 16, बिहार में 11, केरल में 4, झारखंड में 3, ओडिशा में 7, चंडीगढ़ में 3, हिमाचल प्रदेश में 3, असम में 4, और मेघालय  में एक मौत हुई है.






बता दें कि सरकार की ओर से दावा किया है कि कोरोना वायरस महामारी पर ब्रेक लगाने में लॉकडाउन  सबसे  कारगर हथियार साबित हुआ है. सांख्यिकी और कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय के सचिव प्रदीप श्रीवास्तव ने आज 5 गणितीय अनुमानों के आधार पर एक आंकड़ा पेश किया. जिसमे बताया गया है कि अगर लॉकडाउन नहीं लगाया गया होता तो अबतक देश में कोरोना के औसतन 20 लाख मामले सामने आ गए होते जबकि बीमारी से औसतन 54000 लोग जान गंवा चुके होते.


'हमेशा के लिए लॉक डाउन संभव नहीं'
प्रेस कांफ्रेस में मौजूद नीति आयोग के सदस्य और सरकार की ओर से कोरोना पर बनाए गए एमपावर्ड ग्रुप एक के अध्यक्ष डॉ वी के पॉल ने कहा कि लॉक डाउन ने अपना मक़सद काफ़ी हद तक हासिल किया है . 

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)


अधिक देश की खबरें