शिवसेना ने सरकार पर साधा निशाना
शिवसेना ने बीजेपी पर साधा निशाना



मुंबई, शिवसेना ने उड़ी हमले को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। पार्टी के मुखपत्र सामना ने संपादकीय में लिखा है कि कश्मीर में हुए हमलों के बाद कई देशों ने आतंक के खिलाफ बातें तो बहुत की लेकिन एक भी देश भारत के साथ मजबूती से खड़ा नहीं हुआ। अपने संपादकीय में सामना ने लिखा कि भाजपा समर्थकों ने सोशल मीडिया पर इस बात का खूब प्रचार किया कि दुनिया में पाकिस्तान अलग थलग पड़ गया है। लेकिन सच्चाई इससे कहीं अलग थी।



 यही नहीं दावा यहां तक किया गया था कि रूस की सेना ने पाकिस्तान के साथ अपना संयुक्त सैन्य अभ्यास रद कर दिया है लेकिन सच कुछ और ही था।कुछ ही दिनों बाद रूस की सेना संयुक्त अभ्यास के लिए पाकिस्तान पहुंच चुकी थी। दूसरी ओर शिवसेना के मुखपत्र में लिखा गया कि आतंकी घटना के बाद चीन पाकिस्तान से खफा है,लेकिन मामला यहां भी उल्टा था। चीन ने आश्वासन दिया कि हमले की स्थिति में वह पाकिस्तान के साथ खड़ा होगा। इंडोनेशिया का जिक्र करते हुए सामने ने लिखा कि यह देश भारत का सबसे पुराना मित्र है लेकिन उसने भी पाकिस्तान का साथ देने की बात कही। सामना ने कहा कि हम अमेरिका से अच्छे संबंध की दुहाई दे रहे हैं



 लेकिन राष्टपति ओबामा ने सिर्फ आतंकी हमले की निंदा की और पाकिस्तान का नाम तक नहीं लिया। 1971 के युद्ध का जिक्र करते हुए सामना ने लिखा कि उस वक्त भारत की प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी थीं, और रुस हमारे साथ मजबूती से खड़ा था, लेकिन आज ऐसा कोई मित्र नहीं दिख रहा है। शिवसेना ने 56 इंच के सीने की बात करते हुए लिखा कि इस मामले में भारत के रवैये को देखते हुए पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ का सीना 56 इंच का नजर आ रहा है।


अधिक देश की खबरें