केरल में भूस्खलन और भारी बारिश के बाद मरनेवालों की संख्या बढ़कर 26 हुई, 2 और फाटक खोले गए
केरल में भूस्खलन और भारी बारिश के बाद मरनेवालों की संख्या बढ़कर 26 हुई, 2 और फाटक खोले गए
File Photo


नई दिल्ली, केरल में भारी बारिश और भूस्खलन के चलते मरनेवालों की संख्या बढ़कर 26 हो गई है। जिसके बाद राज्य के 22 बांध खोल दिए गए हैं। लगातार बारिश के चलते शुकवार की सुबह इडुक्की जलाश के पांच में से दो और फाटक खोल दिए गए हैं। 

इससे पहले, केरल के अलग-अलग हिस्सों में गुरुवार तड़के भारी बारिश और भूस्खलन के चलते कम से कम 22 लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में इडुक्की जिले के 11, मलप्पुरम जिले के पांच, वायनाड के तीन, कन्नूर के दो और कोझिकोड के एक व्यक्ति शामिल हैं। यह जानकारी केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दी। 
 
गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार, राहत एवं बचाव अभियान में मदद के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की चार टीमें चेन्नई से केरल के लिए रवाना की गई हैं। प्रत्येक टीम में 45 कर्मी हैं। केंद्र सरकार का अंतर-मंत्रालयी केंद्रीय दल भी केरल में प्रभावित इलाकों का दौरा किया, जबकि बेंगलुरु से सेना को बारिश से प्रभावित इलाकों में भेजा गया। इस बीच मुख्यमंत्री पिनारई विजयन ने आपात बैठक बुलाई और राज्य में बचाव अभियान से संबंधित निर्देश दिए। 

मृतकों में एक ही परिवार के पांच लोग
केरल राज्य आपात अभियान केन्द्र के अनुसार, इडुक्की के अडीमाली शहर में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई। यहां पुलिस और स्थानीय लोगों ने मलबे से दो लोगों को जिंदा बाहर निकाला। 

पेरियार नदी का जलस्तर बढ़ा
पेरियार नदी में जलस्तर खतरे के निशान के आसपास पहुंच गया है। इसके चलते इदमलयार बांध के चार फाटकों को गुरुवार सुबह खोलना पड़ा। एर्णाकुलम जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि पानी छोड़ने से इन क्षेत्रों में परेशानी की आशंका को देखते हुए चोरिनक्कारा और कोमबनाद गांवों में राहत शिविर खोले गए हैं। अधिकारियों के मुताबिक, जलाश्य में जलस्तर 168.20 मीटर चले जाने के बाद इदमलयार बांध पर बुधवार को रेड अलर्ट जारी किया गया था। 

कोचीन हवाई अड्डे पर परिचालन रोकना पड़ा 
कोचीन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा लिमिटेड (सीआईएएल) ने पेरियार नदी में बढ़ रहे जलस्तर को देखते हुए  परिचालन रोक दिया। सीआईएएल नदी के निकट स्थित है। हालांकि दो घंटे के बाद एयरपोर्ट पर हवाई सेवा दोबारा बहाल कर दी गई। 

रेलवे लाइन क्षतिग्रस्त, कई ट्रेनें रद्द
बारिश के कारण कई ट्रेनें प्रभावित हुईं। कई जगह ट्रैक क्षतिग्रस्त होने से कुछ रूट पर ट्रेनें रद्द कर दी गईं।  
 
स्कूलों में छुट्टी  
राज्य में बारिश के चलते जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ। गुरुवार को इडुक्की, कोल्लम और कुछ अन्य जिलों में एहतियात के तौर पर शैक्षिक संस्थानों में छुट्टी कर दी गई।


अधिक देश की खबरें