2019 में राहुल गांधी के सामने आने से आसान हो जाएगी लड़ाई: योगी आदित्यनाथ
file photo


उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने News18 India के कार्यक्रम 'चौपाल' में कहा कि खुद महागठबंधन की पार्टियां राहुल गांधी को नेता मानने के लिए तैयार नहीं है ऐसे में 2019 का चुनाव अगर उनके नेतृत्व में लड़ा गया तो बीजेपी के लिए लड़ाई आसान हो जाएगी. योगी ने कहा कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनावों से पहले लगातार झूठ बोला और जनता को गुमराह किया है लेकिन जल्दी ही इन झूठ पर से पर्दा उठ जाएगा. योगी ने कमलनाथ के यूपी-बिहार के बयान को शर्मनाक बताया और राहुल से माफ़ी मांगने की अपील की.

कुंभ से जुड़े सवाल के जवाब में योगी ने कहा कि मोदीजी के कारण इस बार के कुम्भ में UNESCO ने सांस्कृतिक धरोहर के रूप में मान्यता दी है. बीते दिनों 70 देशो के डिप्लोमेट ने कुंभ क्षेत्र का दौरा किया और इसे अद्भुत बताया था. हमारा प्रयास है कि कुम्भ की तैयारी के साथ प्रयागराज के इंफ्रास्ट्रक्चर में भी सुधार हो जाए. योगी ने बताया कि हमने पूरे देश में 6 लाख गांवों को आमंत्रित किया है.

राहुल से जुड़े एक सवाल के जवाब में योगी ने कहा कि उन्हें कुंभ में आना चाहिए क्योंकि यही गोत्र दिखाने और जनेऊ प्रदर्शन करने का मौका है. हमने किसी को जाति-धर्म में नहीं बांटा. योगी ने कहा कि बीजेपी ने एमपी ने अच्छा काम किया एयर 41% वोट हासिल किए हैं और ये कांग्रेस से भी ज्यादा हैं. कांग्रेस का झूठ जल्दी ही जनता के सामने आ जांएगे एयर जनता जल्दी ही जवाब देगी.

योगी ने कहा कि कांग्रेस ने ईवीएम, राफेल जैसे मुद्दों पर झूठ बोला जनता को गुमराह किया. यूपी में गठबंधन से कोई चुनौती नहीं है. महागठबंधन का नेता ही नहीं तय हो पा रहा है. विकास तभी हो सकता है जब कोई नेता हो कोई नीति हो, महागठबंधन के पास ऐसा कुछ नहीं है ये सिर्फ बीजेपी को हारने के लिए एकजुट हो रहे हैं.

राम मंदिर पर अध्यादेश लाने के मामले पर योगी ने कहा कि इस पर चर्चा की ज़रुरत है कि सबज्यूडिस मामले पर क्या किया जा सकता है. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट को तेजी लानी होगी और देश के विकास के लिए इस मुद्दे का ख़त्म होना ज़रूरी है. कांग्रेस ही राम मंदिर विवाद की जड़ है, कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने ही तो सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर की कि 2019 से पहले इसका फैसला न हो. कांग्रेस देश को धर्म, जाति , भाषा और क्षेत्रवाद में बाँटना चाहती है. आज़ादी के बाद बीजेपी की सरकारों ने किसानों के लिए जितना काम किया है उतना इतिहास में किसी ने नहीं किया.


अधिक राज्य की खबरें