महिला आरक्षण के हक की लड़ाई लड़ेगी प्रसपा लोहिया: अर्चना राठौर
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी , लोहिया की महिला विंग की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक


 लखनऊ। प्रगतिशील  समाजवादी पार्टी , लोहिया की महिला विंग की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आज पार्टी मुख्यालय में आयोजित की गई। जिसमें महिलाओं के राजनीतिक- आर्थिक आरक्षण सहित, लोकसभा चुनाव में महिलाओं की भूमिका पर भी चर्चा हुई।
महिला सभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष अर्चना राठौर ने कहा कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया सभी वर्गों को उनकी आबादी के अनुपात में भागीदारी देने की बात करती है। उन्होंने मांग की कि महिलाओं को भी उनकी  आबादी के अनुपात में सभी क्षेत्रों में 50 प्रतिशत भागीदारी दी जाए। महिला सभा की बैठक में महिला आरक्षण को लेकर राजनीतिक आर्थिक प्रस्ताव पास किया गया। उन्होंने कहा कि महिलाओं की हिस्सेदारी मात्र 15प्रतिशत है जो कि जो कि नैसर्गिक न्याय के खिलाफ है।  अध्यक्ष ने महिलाओं को आबादी के अनुपात में जातिवार प्रतिनिधित्व दिये जाने की बात कही। 
महिलाओं की राजनीतिक भागीदारी की बात करते हुए महिला सभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आजादी के 70 वर्ष बीत जाने के बाद भी विधान परिषद में महिलाओं का मात्र 30 प्रतिशत और विधानसभा में मात्र 12 प्रतिशत प्रतिनिधित्व है। उन्होंने 2019 के लोकसभा सीटों में भी महिलाओं को पर्याप्त भागीदारी देने की मांग की।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुंदरलाल लोधी ने समाज में महिलाओं के महत्व को बताते हुए पार्टी में उनके उनकी अहम भूमिका की चर्चा की। उन्होंने कहा कि महिला और पुरुष एक गाड़ी के दो पहिए हैं और दोनों के सहयोग से समाज आगे बढ़ता है। उन्होंने महिला आरक्षण को जरूरी बताते हुए कहा की पार्टी सदैव से महिला आरक्षण का समर्थन करती आई है। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पार्टी के प्रदेश महासचिव वीरपाल सिंह यादव ने कहा कि पार्टी  पहले से ही दो महिलाओं को लोकसभा का टिकट दे चुकी है जबकि अभी अधिकांश सीटों पर पार्टी उम्मीदवारों की घोषणा की जानी है। उन्होंने कहा कि महिला सभा अगर और योग्य उम्मीदवार का नाम प्रस्तावित करती है तो निश्चित रुप से पार्टी उस पर विचार करेगी। 
पूर्व मंत्री शादाब फातिमा ने अपने संबोधन में कहा कि पार्टी हमेशा से महिलाओं के हितों और उनके सम्मान की लड़ाई लड़ती आई है। उन्होंने स्त्री पुरुष के बीच की गैर बराबरी को सबसे बड़ी गैर बराबरी और अन्याय बताते हुए महिलाओं को 50  प्रतिश आरक्षण दिए जाने की मांग की।बैठक को प्रसपा लोहिया के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ.सी.पी राय, राष्ट्रीय प्रवक्ता गौतम राणे सागर तथा बिहार प्रदेश के प्रभारी सिद्धनाथ राय ने भी संबोधित किया।
राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में मध्य प्रदेश से श्रीमती सुनीता भारती,मध्य प्रदेश टीकमगढ़ से श्रीमती संध्या जैन,गुजरात बड़ौदा से श्रीमती सोनी राठौर, तेलंगाना से श्रीमती सुमन, बिहार से उपासना किरण, उत्तरांचल मीरा रावत  राजस्थान ,बिहार, दिल्ली, हरियाणा,सहित आदि प्रदेशों की महिला पदाधिकारियों ने प्रमुख रूप से मौजूद थी!कार्यक्रम का संचालन अल्पना बाजपेई ने किया।


अधिक राज्य की खबरें