कांग्रेस और बीजद को भ्रष्टाचार से लड़ने की चिंता नहीं: मोदी
ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के नाम का उल्लेख किए बिना, प्रधानमंत्री मोदी ने उन पर राज्य में किसानों को लाभान्वित करने में बाधाएं उत्पन्न करने का आरोप लगाया।


सम्बलपुर (ओडिशा),  (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को लगातार चार बार ओडिशा में सत्ता में रही कांग्रेस और बीजू जनता दल (बीजद) के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा कि इन दलों को भ्रष्टाचार से लड़ने की चिंता नहीं है। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के नाम का उल्लेख किए बिना, प्रधानमंत्री मोदी ने उन पर राज्य में किसानों को लाभान्वित करने में बाधाएं उत्पन्न करने का आरोप लगाया। वह आज यहां एक चुनावी रैली को सम्बोधित कर रहे थे। 

प्रधानमंत्री ने कहा, “आपने उन पर (बीजद) आंख बंद करके 20 वर्षों तक भरोसा किया है। अब ओडिशा की धरती ने एक बदलाव के लिए अपना मन बना लिया है।” उन्होंने कहा कि ओडिशा की बीजद सरकार गलत तरीके से एक किलो चावल एक रुपये में उपलब्ध कराने का दावा करती है। उन्होंने कहा, “दिल्ली में चौकीदारों की सरकार 29 रुपये या 30 रुपये में एक किलो चावल खरीदती है और राज्य के गरीबों के लिए भेजती है। राज्य सरकार खरीद में एक या दो रुपये लगाती है लेकिन दावा करती है कि यह गरीबों को सस्ता चावल मुहैया कराती है। यह सच नहीं है।” 

मोदी ने सवालिया लहजे में कहा, “अगर आपका बेटा आपको दिल्ली से मनीऑर्डर भेजता है और डाकिया आपके पास पहुंचाता है तो क्या यह डाकिया का पैसा होगा?” उन्होंने कहा कि मेरा कहने का यह मतलब नहीं कि राज्य सरकार आप लोगों तक चावल पहुंचाने में मेहनत नहीं कर रही है लेकिन उसे दिल्ली से चावल भेजने वाले लोगों के बारे में भी असलियत बताना चाहिए। ”

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि उसकी अगुवाई में केंद्र में पिछली सरकारें भ्रष्टाचार की जांच करने में विफल रहीं। इससे पहले एक रुपये का केवल 15 या 16 पैसा गरीबों तक पहुंचता था, बाकी बिचौलियों की जेब में चला जाता था। चौकीदार की सरकार ने सुनिश्चित किया कि लोगों को पूरी राशि मिले। इससे पहले ऐसे लोग थे, जो केंद्र से भेजे गए धन पर गिद्ध दृष्टि रखते थे। पैसा आते ही वे हिस्सा बांटने में जुट जाते थे। प्रधानमंत्री ने कहा,“ मैं उनसे लड़ने का संकल्प लेकर सत्ता में आया लेकिन कांग्रेस और ‘महामिलावटी” समूह भ्रष्टाचार पर हमले के कारण चौकीदार को बाहर करने के लिए बेताब है।” 


अधिक देश की खबरें