मछली शहर सांसद राम चरित्र निषाद सपा में शामिल
भाजपा सांसद राम चरित्र निषाद, पिपराइच की पूर्व विधायक राजमती निषाद व उनके पुत्र अमरेंद्र निषाद ने सपा की सदस्यता


लखनऊ। मछलीशहर के भाजपा सांसद राम चरित्र निषाद, पिपराइच की पूर्व विधायक राजमती निषाद व उनके पुत्र अमरेंद्र निषाद ने सपा की सदस्यता ग्रहण की। गुरुवार शाम लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय में उन्हें अखिलेश यादव ने सपा की सदस्यता ग्रहण कराई। अखिलेश ने राजमती और अमरेंद्र की जॉइनिंग को घर वापसी बताया।
भाजपा छोड़ सपा में शामिल मछलीशहर के भाजपा सांसद रामचरित्र निषाद का जौनपुर में लंबा राजनीतिक सफर रहा। बस्ती जिले के मूल निवासी रामचरित्र निषाद दिल्ली में आवास बनाकर रहते हैं। वह 2009 में मछलीशहर (सु) लोकसभा सीट पर अपना दल से चुनाव लड़े और बाद में भाजपा में शामिल हो गए। 2014 में वे भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़े और सांसद बने। निषाद जाति से ताल्लुक रखने वाले रामचरित्र मछलीशहर सीट अनुसूचित जाति से सुरक्षित होने के कारण विवादों में रहे और इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट में मुकदमा भी विचाराधीन है। हालांकि वह दिल्ली राज्य के प्रमाण पत्र पर खुद को अनुसूचित जाति का होने की दलील देते रहे। लोकसभा 2019 चुनाव के दौरान मौजूदा सांसद का पार्टी छोड़ना बीजेपी के लिए झटका माना जा रहा है। निषाद को इस बार भाजपा ने मछलीशहर सीट से दोबारा टिकट नहीं दिया है। पत्रकार वार्ती के दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि कांग्रेस देश की सबसे बड़ी धोखेबाज पार्टी है। जो कांग्रेस है, वही भाजपा है। जो भाजपा है, वही कांग्रेस है। हमारे खिलाफ ईडी और सीबीआइ जांच कांग्रेस ने कराई थी। जिस आदमी ने हमारे नेताजी (मुलायम सिंह) और डिंपल यादव के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले में याचिका दायर की थी वह कांग्रेस और भाजपा दोनों से मिला हुआ है।


अधिक राज्य की खबरें