भाजपा सरकार ने जनता को छला : अखिलेश
उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग सपा-बसपा के गठबंधन को मिलावट कहते हैं और खुद 38 दलों के साथ चुनाव लड़ रहे हैं।


लखीमपुर खीरी, (हि.स.)। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सोमवार दोपहर को चुनाव प्रचार अभियान के तहत लखीमपुर पहुंचे। उन्होंने जीआईसी ग्राउंड पर एक जनसभा में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर समाजवादी योजनाओं को अपने नाम से प्रचारित करने का आरोप लगाया।
अखिलेश ने कहा की सपा और बसपा का गठबंधन किसानों, बेरोजगारों व गरीबों के दिलों का गठबंधन है, जो टूटने वाला नहीं है। अभी तक जहां भी चुनाव हुए हैं, वहां सभी सीटों पर गठबंधन आगे चल रहा है।

अखिलेश सपा-बसपा गठबंधन की खीरी लोकसभा से उम्मीदवार पूर्वी वर्मा और धौरहरा लोकसभा उम्मीदवार अरशद सिद्दकी के लिए वोट की अपील करने सोमवार को लखीमपुर पहुंचे थे। सपा मुखिया ने कहा कि भाजपा सरकार ने जनता के साथ छल किया है। उन्होंने 2014 के चुनाव में जो घोषणा पत्र जारी किया, उस पर कोई काम नहीं किया। यह पार्टी एक जुमलेबाज पार्टी है, यह आप लोग जान चुके हैं। 

सपा अध्यक्ष ने कहा कि यह चुनाव एक महीने पहले भी हो सकता था। लेकिन अपने फायदे के लिये भाजपा ने लोगों को धूप में खड़ा कर दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग सपा-बसपा के गठबंधन को मिलावट कहते हैं और खुद 38 दलों के साथ चुनाव लड़ रहे हैं। इन्हें क्या महामिलावट कहा जाए। भाजपा के पास चुनाव के कोई मुद्दे नहीं हैं। 
उन्होंने कहा कि बाबा मुख्यमंत्री यहां आये थे, बहुत जल्दी चले गये। 

उन्होंने किसी को मौका ही नहीं दिया कि कोई पूछ सके, कहां किसानों की आय डेढ़ गुनी बढ़ी, कहां 14 दिन में किसानों का भुगतान हुआ। ये दिल्ली की सरकार बहुत ही बेकार है। इसे बदल देना चाहिये। चाय वाला बनकर आये थे, अब चौकीदार बन गये। ये चौकीदार हमारे आपके चौकीदार नहीं, उद्योगपतियों के चौकीदार हैं, जो बड़े उद्योगपतियों को भगाने में मदद करते हैं। 

सपा अध्यक्ष ने कहा कि नोटबंदी के दौरान सैकड़ों उद्योगपति भारत छोड़ कर चले गए। कहीं काला धन लाने की बात कही गई थी। बाबा योगी आए लेकिन कालेधन पर नहीं बोले। सरकारी भ्रष्टाचार की सभी हदें पार कर दी हैं। सपा सरकार द्वारा चलाई गई सारी योजनाओं को आज अपना नाम दे रहे हैं, इससे बड़ा झूठ और क्या हो सकता है।


अधिक राज्य की खबरें