मोदी को पीएम नहीं मानती, स्टेज शेयर नहीं करूंगी : ममता बनर्जी
ममता बनर्जी ने पीएम मोदी के तामलुक रैली में दिए उस बयान पर पलटवर किया है जिसमें उन्होंने ममता पर फोन न उठाने का आरोप लगाया था.


नई दिल्ली: फोनी चक्रवाती तूफान को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच तकरार जारी है. ममता बनर्जी ने पीएम मोदी के तामलुक रैली में दिए उस बयान पर पलटवर किया है जिसमें उन्होंने ममता पर फोन न उठाने का आरोप लगाया था. अब ममता ने पीएम पर हमला बोलते हुए कह है कि जिस वक्त पीएम का फोन आया, उस वक्त मैं खड़कपुर में थी इसलिए चक्रवात फोनी के संबंध में प्रधानमंत्री का फोन आने पर उनसे बात नहीं कर पाई. 

मोदी के कार्यालय से आए फोन का जवाब नहीं देने पर ममता ने कहा, "चुनाव हो रहे हैं, ऐसे में मैं एक्सपायरी प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा नहीं करना चाहती." ममता ने पीएम पर निशाना साधते हुए कहा, "मैं मोदी को पीएम नहीं मानती, उनके साथ चुनाव के वक्त स्टेज शेयर नहीं करूंगी."

ममता ने कहा कि उन्होंने जो काम किए हैं, उसकी बराबरी पीएम मोदी कभी नहीं कर सकते. ममता ने पिछ्ली बार बंगाल में बाढ़ के दौरान केंद्र पर मदद न देने का भी पीएम मोदी पर आरोप लगाया. ममता ने कहा कि पश्चिम बंगाल को केंद्र की भीख की जरूरत नहीं है. ममता ने पीएम मोदी को एक्सपायरी पीएम बताते हुए समीक्षा बैठक बुलाने पर भी सवाल उठाए. 

बनर्जी ने झाड़ग्राम के गोपीबल्लभपुर उप मंडल में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, 'मैं चक्रवात की निगरानी करने के लिए खड़गपुर में थी लेकिन प्रधानमंत्री की ओर से फोन कॉल मेरे कार्यालय (कोलकाता में) किया गया इसलिए मैं जवाब नहीं दे पाई." उन्होंने कहा, "आज झाड़ग्राम में मेरी (चुनावी) सभा तय थी. पश्चिम बंगाल में चुनाव चल रहे हैं जबकि ओडिशा में समाप्त हो चुके हैं. मैं चुनावी समय के दौरान एक एक्सपायरी प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा क्यों करूं?"

यह मुद्दा आज पीएम मोदी ने पूर्वी मिदनापुर जिले के तामलुक में एक चुनावी रैली के दौरान उठाया था. उन्होंने कहा, "वे इनती घमंडी हैं कि उन्होंने मुझसे बात नहीं की..स्पीडब्रेकरदीदी की रुचि राजनीति करने में अधिक है."  मोदी ने कहा कि वे स्थिति का जायजा लेने के लिए राज्य के अधिकारियों से बात करना चाहते थे. "लेकिन उन्होंने यह भी नहीं होने दिया. उनकी राजनीति के चलते बंगाल के लोग प्रभावित हो रहे हैं लेकिन मैं आपको भरोसा दिलाना चाहता हूं कि केंद्र सरकार बंगाल के लोगों के साथ खड़ी है."


अधिक देश की खबरें