पीएम मोदी ने लंदन में आंबेडकर का मकान खरीदकर बनवाया स्मारक: योगी आदित्यनाथ
योगी ने कहा कि दिल्ली के जिस भवन में रहकर आम्बेडकर ने सार्वजनिक जीवन का सर्वाधिक समय व्यतीत किया.


अम्बेडकरनगर/बस्ती (उप्र): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस और बीएसपी पर बाबा साहब भीमराव आम्बेडकर के नाम पर कोरी राजनीति करने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को दावा किया कि नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद लंदन में आम्बेडकर के मकान को खरीदा और स्मारक बनवाकर वहां अनुसूचित जाति के बच्चों के लिये छात्रावास और छात्रवृत्ति की व्यवस्था की.

योगी ने अम्बेडकर नगर में आयोजित चुनावी रैली में कहा 'आम्बेडकर का नाम तो बहुत लोगों ने लिया लेकिन उनके मूल्यों और सिद्धांतों को सही मायने में किसी ने सम्मानजनक ढंग से आगे बढ़ाया तो वह सिर्फ मोदी ही हैं.' 

योगी ने साधा कांग्रेस और बीएसपी पर निशाना 
उन्होंने कहा 'इंग्लैंड में बाबा साहब ने जिस भवन में रहकर उच्च शिक्षा प्राप्त की, कांग्रेस की सरकार थी, उनका मकान बिक रहा था, मायावती प्रदेश में (मुख्यमंत्री) थीं, मगर इन लोगों ने कुछ नहीं किया. मोदी जी प्रधानमंत्री बने तो उस मकान को खरीदा और वहां आम्बेडकर का भव्य स्मारक बनाया. साथ ही वहां अनुसूचित जाति के बच्चों के लिये छात्रावास और स्कॉलरशिप की व्यवस्था भी की.' 

योगी ने कहा कि दिल्ली के जिस भवन में रहकर आम्बेडकर ने सार्वजनिक जीवन का सर्वाधिक समय व्यतीत किया, वहां पर आम्बेडकर अंतरराष्ट्रीय केन्द्र बनाकर उनकी स्मृति को जीवंतता मोदी सरकार ने प्रदान की.

उन्होंने कहा कि आम्बेडकर से जुड़े पांच स्थानों को पंचतीर्थ के रूप में विकसित करने का काम बीजेपी सरकार ने किया. जो लोग आम्बेडकर को गाली देते थे, मायावती आज उनके साथ मंच साझा करके वोट मांग रही हैं. मेरा मानना है कि कोई आम्बेडकरवादी व्यक्ति उन्हें वोट नहीं दे सकता.

और क्या बोले योगी? 
योगी ने कांग्रेस, एसपी और बीएसपी पर अपने—अपने कार्यकाल में जन्माष्टमी मनाने और कांवड़ यात्रा निकालने में बाधाएं पैदा करने का आरोप लगाया और कहा कि इन पार्टियों की सरकार के जमाने में कुम्भ के मेले के दौरान व्यापक अव्यवस्था और भगदड़ होती है. इस बार भी आपने प्रयागराज में कुम्भ देखा था, वह एक भव्य और दिव्य कुम्भ था. कुम्भ को वैश्विक मंच पर ले जाने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जाता है.

एसपी संस्थापक मुलायम सिंह और उनके कुनबे की तरफ इशारा करते हुए योगी ने कहा कि इन लोगों की राजनीति को देखकर सबसे ज्यादा तकलीफ राम मनोहर लोहिया की आत्मा को होती होगी. लोहिया ने हमेशा परिवारवाद का विरोध किया. सपा ने लोहिया के मूल्यों को तिलांजलि दे दी है.

योगी ने बस्ती में आयोजित जनसभा में आरोप लगाया कि कांग्रेस, सपा और बसपा ने विकास पर सेंध लगाने और देश के संसाधनों पर डकैती के सिवा कुछ नहीं किया. बीजेपी ने पूरे देश में व्यापक परिवर्तन किया है.


अधिक राज्य की खबरें