​​अखिलेश ने फिर बताया अपनी जान को खतरा, पूछा- क्यों हटाई मेरी NSG सुरक्षा?
अखिलेश यादव ने यूपी सरकार के वित्त वर्ष 2020-21 पर अपनी बात रखने के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई थी.


लखनऊ : प्रदेश सरकार द्वारा मंगलवार को जारी किये गए चौथे बजट पर सपा के प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी प्रतिक्रिया दी है. इस दौरान उन्होंने एक बार फिर अपनी जान को खतरा बताते हुए योगी सरकार से पूछा है कि आखिर मेरी NSG क्यों हटाई गई है.

​​
अखिलेश यादव ने यूपी सरकार के वित्त वर्ष 2020-21 पर अपनी बात रखने के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई थी. इस दौरान योगी सरकार पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने पूछा, ''हमारी प्रेस कॉन्फ्रेंस में LIU का कोई अफसर कैसे आ सकता है? केवल मेरी NSG सुरक्षा क्यों हटाई गई?''

हालांकि, अखिलेश ने यह भी कहा कि उन्हें किसी सिक्युरिटी की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि मुझे साइकिल चलानी है और वो भी बहुत तेज.


बता दें कि बीते दिन पहले अखिलेश की सभा में एक शख्स 'जय श्रीराम' का नारा लगाते हुए घुस आया था. अखिलेश यादव उस वक्त कन्नौज के सपा कार्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे. शख्स के 'जय श्रीराम' का नारा लगाने पर अखिलेश बुरी तरह भड़क गए थे और वहां मौजूद पुलिसकर्मी को सुरक्षा में चूक पर डांट लगाई थी. 


जिसके बाद सपा कार्यकर्ताओं ने उस शख्स की पिटाई कर दी थी. हालांकि अखिलेश ने कार्यकर्ताओं को उसे मारने से बचा लिया था. इस घटना पर अखिलेश यादव ने कहा था, ''मुझे जान से मारने की धमकी वाली बात आज पुख्ता हो गई है.'' अखिलेश यादव ने उसी सभा में चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया था कि उनके पास कुछ दिनों पहले एक मैसेज आया था जिसमें उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई थी.

बाद अखिलेश यादव ने ट्विटर पर कुछ स्क्रीन शॉट भी शेयर करते हुए कहा था कि उन्हें मैसेज कर आपत्तिजनक टिप्पणियां भेजी जा रही हैं. हालांकि, उन्होंने बाद में ट्वीट डलीट कर दिया था.

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं) 


अधिक राज्य की खबरें