कश्‍मीर में जिहाद को बढ़ावा देने के लिए नवाज शरीफ ने लादेन से लिया धन: पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ
पार्टी इसके लिए एक इंटरव्यू और एक किताब का हवाला दे रही है, जिनके मुताबाकि शरीफ ने लादेन से 1.5 अरब रुपये लिए थे।


इस्लामाबाद : पूर्व क्रिकेटर और पाकिस्तान के विपक्षी नेता इमरान खान की पार्टी ने आरोप लगाया है कि कश्मीर में जिहाद को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री नवीज शरीफ ने आतंकवादी ओसामा बिन लादेन से धन लिया था। पार्टी ने कहा है कि वह इसके लिए शरीफ पर मुकदमा चलाएगी। पार्टी इसके लिए एक इंटरव्यू और एक किताब का हवाला दे रही है, जिनके मुताबाकि शरीफ ने लादेन से 1.5 अरब रुपये लिए थे। बता दें कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के प्रमुख इमरान खान कथित भ्रष्टाचार के आरोपों पर शरीफ के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं।

अखबार 'द एक्सप्रेस ट्रिब्यून' की खबर के मुताबिक पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के प्रवक्ता फवाद चौधरी ने कहा, 'पाकिस्तान में लोकतंत्र के खिलाफ साजिश और अस्थिरता पैदा करने को लेकर विदेशी शख्स से धन लेने के लिए शरीफ के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग को लेकर वह उच्चतम न्यायालय में एक याचिका दायर करेंगे।' 

PTI के पास अपना मामला साबित करने के लिए कुछ साक्षात्कारों और पाक की खुफिया एजेंसी ISI के पूर्व जासूस खालिद ख्वाजा की पत्नी शमामा खालिद की एक किताब 'खालिद ख्वाजा: शहीद- ए-अमन' के अंशों के अलावा और कोई सबूत नहीं है। पाकिस्तानी तालिबान ने 2010 में ख्वाजा की जघन्य हत्या कर दी थी। खबर के मुताबिक, 'कुछ साक्षात्कारों और एक किताब में किये गए खुलासों पर भरोसा करते हुए PTI परोक्ष रूप से शरीफ की छवि खराब करने के लिए 1980 के दशक से देश के राजनीतिक इतिहास में उथल-पुथल भरे अध्याय को खोलना चाहती है।'

खबर में कहा गया है कि साक्षात्कार और किताब में दावा किया गया है कि शरीफ ने कश्मीर और अफगानिस्तान में जिहाद को बढ़ावा देने के लिए पूर्व अलकायदा प्रमुख लादेन से 1.5 अरब रुपये लिये थे। उन्होंने यह भी दावा किया इस धन से 27 करोड़ रुपये का इस्तेमाल 1989 में भुट्टो के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन के लिए किया गया था।


अधिक विदेश की खबरें