भारत और न्यू जीलैंड के बीच तीसरे T20 मैच में बारिश बन सकती है 'विलन'
तीन टी-20 मैचों की सीरीज में अब तक खेले गए दो मैचों का स्कोर दोनों टीमों के बीच 1-1 से बराबर है।


तिरुवनंतपुरम : तिरुवनंतपुरम में मंगलवार को भारत और न्यू जीलैंड के बीच तीसरा और निर्णायक मुकाबला खेला जाएगा। दोनों ही टीमें पूरी तैयारी के साथ मैदान पर उतरेंगी। तीन टी-20 मैचों की सीरीज में अब तक खेले गए दो मैचों का स्कोर दोनों टीमों के बीच 1-1 से बराबर है। ऐसे में ग्रीनफील्ड इंटरनैशनल स्टेडियम में खेले जाने वाला यह मैच दर्शकों के लिए रोमांचक होगा। हालांकि, बारिश इस मैच का मजा किरकिरा कर सकती है। ऐसे में भारत की सीरीज जीत एक तरह से भगवान भरोसे ही है। 

तिरुवनंतपुरम में सोमवार को हुई जोरदार बारिश के बाद मैच पर खतरा और भी बढ़ गया है। स्थानीय मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार को भी बारिश होने की आशंका जताई जा रही है। इस मैच के दौरान अगर किसी कारण डकवर्थ लेविस विधि का इस्तेमाल करना पड़ जाता है, तो कप्तान विराट कोहली को इसके लिए भी योजना बनाकर तैयार रखनी होगी। 

न्यू जीलैंड और भारत के बीच मंगलवार शाम 7 बजे से अंतिम और निर्णायक टी-20 मैच खेला जाएगा, जिसके 40,000 से भी अधिक टिकट बिक चुके हैं। तिरुवनंतपुरम में पिछला इंटरनैशनल मैच 25 जनवरी, 1988 को खेला गया था। ऐसे में मंगलवार को खेले जाने वाले टी-20 मैच के लिए भारी संख्या में दर्शक स्टेडियम पहुंच सकते हैं। 

टीमों की तैयारी की बात की जाए, तो इस सीरीज पर अपना कब्जा जमाने के लिए जहां भारत को बेहतर बल्लेबाजी और गेंदबाजी में अच्छा प्रदर्शन करना होगा, वहीं न्यू जीलैंड को पिछले मैच में दर्शाए प्रदर्शन को बरकरार रखना होगा। दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेले गए पहले टी-20 मैच में भारत ने फतह हासिल की थी, लेकिन राजकोट में खेले गए दूसरे मैच में न्यू जीलैंड ने अच्छी वापसी करते हुए सीरीज 1-1 से बराबर कर दी। 

न्यू जीलैंड टीम की बात की जाए, तो उसका प्रदर्शन बेहतरीन रहा है लेकिन नियमित नहीं। सीरीज के पहले मैच में मेहमान टीम का प्रदर्शन हर क्षेत्र में खराब था, लेकिन दूसरे मैच में न्यू जीलैंड ने बेहतरीन वापसी करते हुए अपनी क्षमता का प्रदर्शन किया। ऐसे में न्यू जीलैंड को अगर सीरीज पर कब्जा जमाना है, तो उसे पिछले मैच के प्रदर्शन को इस मैच में भी बरकरार रखना होगा। 

अधिक खेल की खबरें