INDvsENG: रवि शास्त्री ने बताया, क्यों चुना गया ऋषभ पंत को टेस्ट टीम इंडिया में
File Photo


बर्मिघम : भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज का पहला मैच बर्मिंघम के एडबेस्टन में बुधवार को शुरू होने जा रहा है. विराट कोहली और टीम प्रबंधन के सामने इस मैच के लिए  टीम इंडिया के अंतिम 11 का चुनाव सबसे बड़ी चुनौती है. काफी चर्चाएं और अगर मगर की बहसें चल रही हैं. इसी बीच भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने इस बात का खुलासा किया है कि पहले तीन टेस्ट मैचों के लिए जब टीम इंडिया का चयन हुआ था, तब ऋषभ पंत को क्यों उसमें जगह दी गई.

शास्त्री ने कहा है कि ऋषभ पंत टेस्ट टीम में चयन के हकदार हैं क्योंकि उन्होंने अपने आप को साबित किया है और साथ ही यह समय है जब एक दूसरे विकेटकीपर-बल्लेबाज को तैयार किया जाए जो युवा हो. पंत इन सभी पैमानों पर फिट बैठते हैं. शास्त्री ने वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो को दिए इंटरव्यू में कहा कि पंत इंडिया-ए से खेलते हुए टेस्ट में रन बना रहे थे तभी उन्हें सीनियर टीम में जगह दी है. 

शास्त्री से जब पूछा गया कि चयनकर्ताओं ने पंत का चयन कर बेहद बोल्ड कदम उठाया है? इस पर कोच ने कहा, "बोल्ड क्यों? वह इंडिया-ए से खेलते हुए रन बना रहे थे. वह युवा हैं. यह समय है जब हमें एक और विकेटकीपर को तैयार करना है. उनमें वो प्रतिभा है. उनकी बल्लेबाजी देखें तो उसमें कुछ अलगपन सा है. वे मैच बदलने वाले खिलाड़ी साबित हो सकते हैं, तो उनको मौका क्यों नहीं दिया जा सकता."

शास्त्री ने साथ ही कहा कि कप्तान विराट कोहली इंग्लैंड की जनता के सामने रन बनाने के भूखे हैं. कोहली का पिछला इंग्लैंड दौरा अच्छा नहीं रहा था, लेकिन शास्त्री ने कहा है कि इन चार वर्षो में कोहली में काफी बदलाव हुए हैं. 

उन्होंने कहा, "आप उनके रिकार्ड देख सकते हैं. मुझे यह बताने की जरूरत नहीं है कि उन्होंने इन चार वर्षो में क्या किया है. जब आप इस तरह से प्रदर्शन करते हो तो आपकी मानसिकता अलग स्तर पर होती है. आपके रास्ते में जो आता है आप उसका इंतजार करते हो. चार साल पहले जब वो आए थे तो उनका प्रदर्शन बेशक अच्छा नहीं रहा था, लेकिन चार साल बाद वो विश्व के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खिलाड़ी हैं. वह ब्रिटेन की जनता के सामने रन बनाने के भूखे हैं."

पंत के चयन पर उठाए गए थे काफी सवाल 
उल्लेखनीय है कि टीम इंडिया का जब इंडिया का चयन हुआ था तब ऋषभ पंत के चयन पर काफी लोगों को हैरानी हुई थी जिन लोगों ने ऋषभ के चयन पर सवाल उठाए थे, उन्होंने  इंडिया ए के इंग्लैंड में अच्छे प्रदर्शन के बावजूद नजरअंदाज किए गए पृथ्वी शॉ और मयंक अग्रवाल के चयन न होने पर भी सवाल उठाए थे और उन दोनों की तुलना ऋषभ पंत से की थी. लेकिन शास्त्री के बयान से साफ हो गया है कि ऋषभ का चयन बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज हुआ था जबकि मयंक और पृथ्वी दोनों ही विकेटकीपर नहीं हैं. 

इसके अलावा करुण नायर के चयन पर भी सवाल उठाए गए थे. करुण नायर एसेक्स के खिलाफ हुए अभ्यास मैच में पूरी तरह नाकाम रहे थे और केवल 4 रन बनाकर ही आउट हो गए थे. करुण नायर के अलावा चेतेश्वर पुजारा और शिखर धवन भी इस मैच में नाकाम हो गए थे. 

अधिक खेल की खबरें