रोहित शर्मा की धमाकेदार पारी पर भारी पड़ी क्रुणाल पांड्या की गेंदबाजी, बन गए मैन ऑफ द मैच
file photo


न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी20 में फ्लॉप साबित होने वाले क्रुणाल पांड्या ने ऑकलैंड टी20 में जबर्दस्त वापसी की. क्रुणाल ने दूसरे टी20 में 4 ओवर में 28 रन देकर 3 विकेट लिए. इस परफॉर्मेंस के लिए क्रुणाल पांड्या को मैन ऑफ द मैच चुना गया. हालांकि 29 गेंदों में 50 रन बनाने वाले रोहित शर्मा भी इस अवॉर्ड के दावेदार थे, लेकिन क्रुणाल की सधी गेंदबाजी उनपर भारी पड़ी.

क्रुणाल ने न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन और तीन टी20 शतक ठोकने वाले कॉलिन मुनरो को पैवेलियन की राह दिखाई. साथ ही उन्होंने डैरेल मिचेल को भी LBW आउट किया. आपको बता दें कीवी टीम के खिलाफ तीन विकेट लेकर क्रुणाल पांड्या ने एक बड़े कारनामे को अंजाम दिया है. क्रुणाल न्यूजीलैंड में टी20 मैच में तीन विकेट लेने वाले पहले भारतीय गेंदबाज हैं.

ऐसे चला क्रुणाल का जादू
भारत को दूसरी कामयाबी क्रुणाल पांड्या ने छठे ओवर में दिलाई. उन्होंने मुनरो को 12 रन पर आउट कराया. इसके बाद उन्होंने ओवर की आखिरी गेंद पर डैरेल मिचेल को 1 रन पर आउट किया. अगले ओवर में क्रुणाल ने कप्तान विलियमसन को 20 पर आउट कर दिया. क्रुणाल की जबर्दस्त स्पिन गेंदबाजी को हरभजन सिंह ने भी सलाम किया.

क्रुणाल की गेंद पर हुआ विवाद
जब न्यूजीलैंड की पारी के छठे ओवर में क्रुणाल पांड्या की गेंद पर डैरेल मिचेल आउट हुए तो उसपर खासा विवाद हो गया. दरअसल क्रुणाल पांड्या की गेंद पर मिचेल को अंपायर ने LBW आउट दिया. इसके बाद बल्लेबाज ने रिव्यू लेकर अंपायर के फैसले का विरोध किया. मामला जब थर्ड अंपायर के पास गया तो HOTSPOT तकनीक से लगा कि गेंद ने मिचेल के बल्ले का किनारा लिया था. उनके बल्ले पर एक सफेद सा निशान बन रहा था. लेकिन थर्ड अंपायर को ये सबूत नाकाफी लगा और उन्होंने फिर स्निको तकनीक का इस्तेमाल किया. जिसमें गेंद का बल्ले से किनारा लेने का कोई सबूत नहीं मिला. थर्ड अंपायर ने मिचेल को आउट करार दिया.

अधिक खेल की खबरें