टैग:ipl#mumbaiindians#wins#chennaisuperkings#
चेन्नई सुपरकिंग्स को हराकर मुंबई इंडियंस ने चौथी बार जीता आईपीएल खिताब
चेन्नई को आखिरी ओवर में जीत के लिए 9 रन चाहिए थे और अनुभवी लसिथ मलिंगा ने आखिरी ओवर में मात्र 7 रन दिए और 2 विकेट भी लिए।


हैदराबाद:  मुंबई इंडियंस ने गेंदबाजी के दम पर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन के फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स को एक रन से हराकर टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम कर लिया है। हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई इंडियंस की टीम ने 08 विकेट खोकर 149 रन बनाए। जवाब में चेन्नई 148 रन ही बना सकी। इसी के साथ ही मुंबई 4 बार आईपीएल का खिताब जीतने वाली पहली टीम बन गई है।

चेन्नई को आखिरी ओवर में जीत के लिए 9 रन चाहिए थे और अनुभवी लसिथ मलिंगा ने आखिरी ओवर में मात्र 7 रन दिए और 2 विकेट भी लिए। इस मैच में मुम्बई ने चेन्नई के सामने जीत के लिए 150 रनों का लक्ष्य रखा था,जवाब में चेन्नई की टीम 20 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 148 रन ही बना सकी। चेन्नई की तरफ से शेन वाटसन ने  59 गेंदों पर 8 चौकों और 4 छक्कों की बदौलत 80 रन बनाए।
 150 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई ने सधी शुरुआत की।  लेकिन चौथे ओवर की आखिरी गेंद पर 33 रन के कुल स्कोर पर टीम को फाफ डु प्लेसिस के रूप में पहला झटका लगा। फाफ  क्रुणाल पांड्या की गेंद पर स्टंप आउट हो गए। इस दौरान फाफ ने 13 गेंदों में 3 चौके और 1 छक्के की मदद से 26 रन बनाए। 

इसके बाद 10वें की दूसरी गेंद पर चेन्नई को सुरेश रैना के रूप में दूसरा झटका लगा। युवा गेंदबाज राहुल चाहर ने रैना को पगबाधा आउट कर चलता किया। दूसरे विकेट के लिए रैना और वाटसन के बीच 37 रन की साझेदारी हुई। रैना ने 8 रन बनाए।

सुरेश रैना के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए अंबाती रायुडू  ज्यादा देर तक पिच पर नहीं टिक पाए और  केवल 1 रन बनाकर जसप्रीत बुमराह का शिकार बने। बुमराह ने रायुडू को विकेट के पीछे डिकॉक के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। चेन्नई को सबसे बड़ा झटका कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के रूप में लगा।धोनी 13वें ओवर में 82 के कुल स्कोर पर ईशान किशन के सीधे थ्रो पर रन आउट हुए। धोनी ने मात्र 2 रन बनाए।

18.2 ओवर में मुंबई ने चेन्नई को ड्वेव ब्रावो  के रूप में पांचवां झटका दिया। पांचवें विकेट के लिए ब्रावो और वॉटसन के बीच 51 रन की साझेदारी हुई। ब्रावो ने 15 रन बनाए। 20वे ओवर की चौथी गेंद पर 146 के कुल स्कोर पर वाटसन दूसरा रन लेने के चक्कर मे दुर्भाग्यपूर्ण ढंग से रन आउट हो गए। उन्होंने 59 गेंदों पर 8 चौकों और 4 छक्कों की बदौलत 80 रन बनाए। इसके बाद आखिरी गेंद पर मलिंगा ने शार्दूल ठाकुर को रन आउट कर मुम्बई को 1 रन से जीत दिला दी।
मुम्बई की तरफ से जसप्रीत बुमराह ने दो, कुणाल पांड्या लसिथ मलिंगा और दीपक चाहर ने एक-एक विकेट लिया ।

इससे पहले मुंबई ने इस खिताबी मुकाबले में  टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए  निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 149 रन बनाए। मुम्बई के लिए किरोन पोलार्ड ने 25 गेंदों पर तीन चौके औए तीन छक्कों के बदौलत नाबाद 41 रन बनाए।
पोलार्ड के अलावा मुंबई की तरफ से कोई भी बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर पाए। 

पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई को रोहित शर्मा और क्विंटन डिकॉक की सलामी जोड़ी ने धमाकेदार शुरुआत दिलाई। मगर 4.5 ओवर में तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने मुंबई को क्विंटन डिकॉक के रूप में पहला झटका दिया। शार्दुल ने उन्हें विकेट के पीछे धोनी के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। पहले विकेट के लिए रोहित और डिकॉक के बीच 45 रन क साझेदारी हुई। डिकॉक ने 29 रन बनाए। इसके तुरंत बाद यानी 5.2 ओवर में दीपक चाहर ने चेन्नई को बड़ी सफलता दिलाई। चाहर ने कप्तान रोहित शर्मा को धोनी के हाथों कैच आउट कराते हुए मुंबई को दूसरा झटका दिया। रोहित ने 15 रन बनाए। मुम्बई के पहले दोनों विकेट 45 रनों के कुल स्कोर पर गिरे।

इसके बाद 11.2 ओवर में इमरान ताहिर ने 82 के कुल स्कोर पर मुंबई को सूर्यकुमार यादव  के रूप में तीसरा झटका दिया।यादव ने 15 रन बनाए।

 इसके कुछ ही देर बाद 12.3 ओवर में शार्दुर ठाकुर ने क्रुणाल पांड्या को खुद की गेंद पर कैच लेते हुए उन्हें पवेलियन भेजा। पांड्या ने 7 रन बनाये। 14.4 ओवर में इमरान ताहिर ने इशान किशन  के रूप में मुंबई का पांचवां विकेट चटकाया। किशन ने 23 रन बनाए। ताहिर ने उन्हें रैना के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। इस विकेट के साथ ही ताहिर ने दिल्ली के तेज गेंदबाज कागिसो रबाडा को पीछे छोड़ दिया है। रबाडा के आईपीएल के इस सत्र में 25 विकेट हैं।ताहिर ने इशान किशन को आउट कर आईपीएल के 12वें सीजन में अपना 26वां विकेट पूरा किया। इसके साथ ही वह पर्पल कैप होल्डर हो गए हैं।

इसके बाद 19वें ओवर में मुंबई के दो विकेट गिरे। दीपक चाहर ने ओवर की दूसरी गेंद पर हार्दिक पांड्या  को एलबीडब्ल्यू आउट किया, जबकि चौथी गेंद पर बल्लेबाजी करने आए युवा खिलाड़ी राहुल चाहर को डु प्लेसिस के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। हार्दिक ने 16 रन बनाए जबकि चाहर खाता भी नही खोल पाए।
चेन्नई की तरफ से दीपक चाहर ने सबसे अधिक 3, ताहिर और शार्दुल ने 2-2 विकेट हासिल किए। इस मैच के लिए चेन्नई ने अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं किया था। वही, मुंबई ने अपनी टीम में एक बदलाव करते हुए जयंत यादव की जगह मिचेल मैक्लेनघन को शामिल किया है।

अधिक खेल की खबरें