बदसलूकी मामला: भारत-बांग्लादेश के पांच खिलाड़ियों पर कड़ी कार्रवाई
भारत-बांग्लादेश के पांच खिलाड़ियों पर कार्रवाई


भारत और बांग्लादेश के बीच अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में विवाद हुआ था, जिसके बाद अब आईसीसी ने सख्त कदम उठाया है। क्रिकेट की प्रमुख संस्था ने फाइनल में हुई हाथापाई और बदसलूकी मामले में भारत और बांग्लादेश दोनों ही टीमों के पांच खिलाड़ियों को दोषी पाया है। इस मामले में उनपर आचार संहिता का उल्लंघन करने पर कार्रवाई की गई है।


भारत-बांग्लादेश के पांच खिलाड़ियों पर कार्रवाई

आईसीसी ने बांग्लादेश के शमीम हुसैन, रकिबुल हसन और मोहम्मद तॉहिद हृदोय और भारत के रवि बिश्नोई और आकाश सिंह को आईसीसी के आचार संहिता के तहत लेबल 3 का उल्लंघन करने का दोषी पाया है।


सभी खिलाड़ियों पर अनुच्छेद 2.21 का उल्लंघन करने का आरोप लगा, जबकि बिश्नोई के खिलाफ अनुच्छेद 2.5 को तोड़ने का एक और आरोप मिला। सभी पांच खिलाड़ियों ने आईसीसी अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप के मैच रेफरी ग्रीम लेबरॉय द्वारा प्रस्तावित प्रतिबंधों को स्वीकार कर लिया है।


बांग्लादेश के मोहम्मद तॉहिद हृदोय को छह डिमेरिट अंक के बराबर दस सस्पेंशन अंक, शमीम हुसैन को छह डिमेरिट अंक के बराबर आठ सस्पेंशन अंक और रकीबुल हसन को पांच डिमेरिट अंक के बराबर चार सस्पेंशन अंक दिए गए हैं जो उनके रिकॉर्ड में अगले दो साल तक रहेंगे।


इनके अलावा आकाश सिंह और रवि बिश्नोई को भी छह डिमेरिट अंक के बराबर आठ सस्पेंशन अंक और पांच सस्पेंशन अंक के साथ पांच डिमेरिट अंक दिए गए हैं।

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)  

अधिक खेल की खबरें