जातीय राजनीति करने वालों को निकाय चुनावों में जनता ने सिखाया सबक : डॉ चंद्रमोहन
Dr Chandra Mohan


लखनऊ, भारतीय जनता पार्टी लोकतंत्र में आस्था रखने वाली पार्टी है। हम चुनाव को लोक सम्पर्क का पर्व मानकर सहभागिता करते है। ये कहना है बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता डॉ चंद्रमोहन का।
आज पार्टी कार्यालय ने पत्रकारों से बात करते हुए बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमों मायावती निकाय की जनता के जनादेश का अपमान कर रही है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव 2012 निकाय चुनाव परिणाम पर भी सवाल खड़ा कर रहे है। 
डॉ चंद्रमोहन ने सपा मुखिया अखिलेश यादव को सवालों के घेरे में खड़ा करते हुए कहा कि निकाय चुनावों में भाजपा की जीत से ये इतना घबरा गए है कि खुद को युवाओं का रहनुमा कहने वाले अखिलेश को आरोप लगाने वाला ट्वीट करने में 24 घंटे लग गए।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने निकाय चुनावों में ना केवल संकल्प पत्र जनता के बीच रखा अपितु पार्टी के प्रदेशध्यक्ष से लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व अन्य पार्टी नेताओं कार्यकर्ताओं ने जी तोड़ मेहनत भी की जिसका परिणाम है बीजेपी की ये आपार जीत।

 इसके ठीक विपरीत सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमों मायावती ने एक बार फिर नगरीय जनता से मुंह चुराया। सपा और बसपा के नेता चुनाव में अधिकृत प्रत्याशियों को चुनाव में खडा करने के बाद भी केन्द्र सरकार की लोकप्रियता से घबरा कर पहले खुद प्रचार में नहीं गए अब ईवीएम राग अलाप रहे है। उनके पास शहर की सम्मानित जनता के सामने कहने के लिए कुछ था ही नहीं तो ईवीएम पर ही आरोप लगा दिया जबकि वास्तविकता ये है कि जनता ने इस चुनाव में इन दोनों दलों को एक सिरे से नकार दिया है।

सपा और बसपा के नेताओं को चुनाव परिणाम के मंथन की नसीहत देते हुए डॉ चंद्रमोहन ने कहा कि ये दोनों दल चुनाव परिणामों का विश्लेषण कर लें इन्हें हर जगह बीजेपी की बढ़त दिखाई देगी क्योकि राज्य की सम्मानित जनता ने 2014 के लोकसभा चुनाव और 2017 के विधानसभा चुनाव के बाद निकाय चुनाव में एक बार फिर से जातीय राजनीति करने वालों को सबक सिखाया है। 

अधिक राज्य की खबरें

उपचुनाव : सिकन्दरा विधानसभा सीट पर सपा को मिला निषाद और पीस पार्टी का समर्थन, दोनों दलों ने नहीं उतारे अपने प्रत्याशी..

निषाद पार्टी और पीस पार्टी दवारा कानपुर देहात की सिकन्दरा विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव में समाजवादी पार्टी ......