टैग:socialmedia#lucknow#,anupmajaiswal
 शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान, बोली स्कूल की टाइमिंग के दौरान सोशल मीडिया पर सक्रिय शिक्षकों को नौकरी से  पड़ जाएगा हांथ धोना
Education Ministers big statement, bidding teachers active on social media during school time



लखनऊ: उत्तर प्रदेश के स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षक अब अगर पढ़ाई के समय सोशल मीडिया पर सक्रिय पाए गए तो उनकी खैर नहीं होगी . ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि हमारी शिक्षा मंत्री कह रही उन्होंने कहा अगर शिक्षक फ़ोन चलाते हुए पकडे गए तो उन्हें नौकरी से हाथ धोना पड़ सकता है. आपको बता दे कि सरकारी टीचर्स  की नौकरी अब पहले जैसी आसान नहीं रही.  ऐसा इसलिए है क्योंकि दिन प्रतिदिन शिक्षा की नीति में बदलाव होते जा रहे हैं. शिक्षकों से हर छोटी से छोटी एक्टीविटी की रिपोर्ट मांगी जा रही है. अब फिर से एक और नया आदेश जारी किया गया है. यूपी की बेसिक शिक्षा एवं बाल विकास व पुष्टाहार राज्यमंत्री अनुपमा जायसवाल ने अफसरों व शिक्षकों के लिए कहा है कि अगर उत्तर प्रदेश के स्कूलों में शिक्षकों ने क्लास में पढ़ाने के दौरान सोशल मीडिया का प्रयोग किया तो उनपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी.

पढ़ाने से जुड़ा जो भी काम का एक्टीविटी शिक्षक कराएंगे उसकी रिपोर्ट शासन के व्हाट्सएप नंबर पर रोज भेजनी पड़ेगी . राज्यमंत्री अनुपमा ने यह चेतावनी जिला पंचायत सभागार में 'स्कूल चलो अभियान' का शुभारंभ करते हुए दे दी . उन्होंने कहा परिषदीय स्कूलों में ऐसा माहौल बनाने की पहल करें जिसमें अभिभावक खुद बच्चों का दाखिला कराएं.  

अधिक राज्य की खबरें